Menu Close

Shop

Sale!

Tum Chup Kyon Rahey Kedaar (Revised & Updated Edition) Hridayesh Joshi

Original price was: ₹325.00.Current price is: ₹276.00.

दस साल पहले एक पहाड़ टूटा था। प्रलय की तरह दौड़ते सैलाब ने सैकड़ों मीलों तक बस्तियाँ मिटा दी थीं। यह केदारनाथ आपदा थी। जब इस त्रासदी के बाद मैं वहाँ पहुँचा तो हर तरफ़ मौत का सन्नाटा था। पहाड़ी शिलाओं के पीछे शव मिल रहे थे, और शवों से जुड़ी ऐसी कहानियाँ थीं जो बस रुलाती और डराती थीं। उस अनुभव पर तब मैंने यह किताब लिखी थी- तुम चुप क्यों रहे केदार।

Kindle E-Book Also Available
Available on Amazon Kindle

In stock

Wishlist

Description

 

About the Author:

हृदयेश जोशी पत्रकार, लेखक, अनुवादक और घुमक्कड़ हैं। 2013 में उन्होंने केदारनाथ आपदा की व्यापक रिपोर्टिंग की और कई सालों से हिमालय से जुड़े मुद्दों पर लिख रहे हैं। यह केदारनाथ आपदा पर उनकी लिखी पुस्तक का दसवार्षिकी संस्करण है जो हिमालय के सामने खड़े विराट संकट को बताता है। हिमालय पर रस्किन बॉण्ड और नमिता गोखले द्वारा सम्पादित संकलन में दुनिया भर के नामी लेखकों के साथ हृदयेश की इसी पुस्तक के अंश भी शामिल किये गये हैं। इसके अलावा 2016 में उनका उपन्यास लाल लकीर प्रकाशित हुआ जो बस्तर में सुरक्षा बलों और माओवादियों के बीच संघर्ष में फँसे आदिवासियों की कहानी है। हृदयेश ने बिल एटकिन की किताब फुटलूज़ इन द हिमालय का हिन्दी अनुवाद भी किया है जो 2022 में एटकिन का हिमालय नाम से प्रकाशित हुआ ।

Additional information

ISBN

9788119127276

Author

Hridayesh Joshi

Binding

Paperback

Pages

232

Imprint

Setu Prakashan

Language

Hindi

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Tum Chup Kyon Rahey Kedaar (Revised & Updated Edition) Hridayesh Joshi”

You may also like…

  • Aitken Ka Himalaya – Bill Aitken, Translated by Hridayesh Joshi

    Original price was: ₹449.00.Current price is: ₹382.00.

    Aitken Ka Himalaya – Bill Aitken, Translated by Hridayesh Joshi
    एटकिन का हिमालय

    बिल एटकिन की यह किताब हिमालय को जानने-समझने और उससे सरोकार रखने वालों के लिए खूबसूरत अनिश्चितता से भरे एक ऐसे प्रस्थान-बिन्दु जेसी है जहाँ से उन्हे किसी भी दिशा में प्रक्षेपित किया जा सकता है।

Jinna - Hindi