Hukum Desh Ka Ikka Khota – Neelakshi Singh

234.00275.00

Hukum Desh Ka Ikka Khota – Neelakshi Singh

हुकुम देश का इक्का खोटा चर्चित कथाकार नीलाक्षी सिंह की नवीनतम कृति है। यह कृति जीवन पर मँडराते मृत्यु और अनिश्चितता के संशय वाले सफर के बरक्स स्मृति, कल्पना और आत्मजिरह के सूतों से एक ऐसा विपर्यय रचती है जिससे होकर गुजरना ही नहीं, वहाँ बेमतलब रुक कर कुछ पल ठहर जाना भी पढ़ने वाले को खुशनुमा लगने लगता है।

In stock

Wishlist

हुकुम देश का इक्का खोटा चर्चित कथाकार नीलाक्षी सिंह की नवीनतम कृति है। यह कृति जीवन पर मँडराते मृत्यु और अनिश्चितता के संशय वाले सफर के बरक्स स्मृति, कल्पना और आत्मजिरह के सूतों से एक ऐसा विपर्यय रचती है जिससे होकर गुजरना ही नहीं, वहाँ बेमतलब रुक कर कुछ पल ठहर जाना भी पढ़ने वाले को खुशनुमा लगने लगता है।

About the Author:

जन्म : 17 मार्च 1978, हाजीपुर, बिहार प्रकाशन : परिंदे का इंतज़ार सा कुछ, जिनकी मुट्ठियों में सुराख़ था, जिसे जहाँ नहीं होना था, इब्तिदा के आगे ख़ाली ही (कहानी संग्रह); शुद्धिपत्र, खेला (उपन्यास) सम्मान : रमाकांत स्मृति सम्मान, कथा सम्मान, साहित्य अकादेमी स्वर्ण जयंती युवा पुरस्कार, प्रो. ओमप्रकाश मालवीय एवं भारती देवी स्मृति सम्मान और कलिंग बुक ऑफ़ बुक ऑफ़ द इयर 2020-21, वैली ऑफ वडर्स हिन्दी कथा-साहित्य सम्मान।

ISBN

9789395160896

Author

Neelakshi Singh

Binding

Paperback

Pages

200

Publication date

04-12-2022

Imprint

Setu Prakashan

Language

Hindi

Customer Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Hukum Desh Ka Ikka Khota – Neelakshi Singh”