Nasreen Dard La Dawa – Krishna Baldev Baid

40.00

Nasreen Dard La Dawa – Krishna Baldev Baid
नसरीन ‘दर्द ला दवा’- कृष्ण बलदेव वैद

Out of stock

Wishlist

About Author

कृष्ण बलदेव वैद का जन्म 27 जुलाई 1927 को पंजाब में हुआ था। आप निर्मल वर्मा के समकालीन थे। आपने हाॅवर्ड विश्विद्यालय से अंग्रेजी में पीएचडी करने के बाद न्यूयार्क स्टेट यूनिवर्सिटी में अध्यापन किया और वहीं बस गए। बाद में आप भारत लौट आये और दिल्ली में रहे। कृष्ण बलदेव वैद ने ‘उसका बचपन’, ‘बिमल उर्फ़ जायें तो जायें कहां’, ‘तसरीन’, ‘दूसरा न कोई’, ‘दर्द ला दवा’, ‘गुज़रा हुआ ज़माना’, ‘काला कोलाज’, ‘नर नारी’, ‘माया लोक’, ‘एक नौकरानी की डायरी’ जैसे उपन्यासों से हिंदी साहित्य को समृद्ध किया।

SKU: nasarin-dard-la-dawa-krishna-baldev-baid
Category:

Customer Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Nasreen Dard La Dawa – Krishna Baldev Baid”