Duniya Mere Aage By Priydarshan

360.00

Duniya Mere Aage By Priydarshan
‘दुनिया मेरे आगे’ – प्रियदर्शन

‘दुनिया मेरे आगे’ कवि-कथाकार एवं पत्रकार प्रियदर्शन के स्मृति-आलेखों का संकलन है। इस किताब में जिन्हें याद किया गया है वे साहित्य और पत्रकारिता के बड़े चमकदार नाम हैं-निर्मल वर्मा, नामवर सिंह, राजेन्द्र यादव, केदारनाथ सिंह, कृष्णा सोबती, प्रभात जोशी, फिल्मकार के. बिक्रम सिंह और ग़ज़ल गायक जगजीत सिंह आदि मौजूद हैं।

In stock

Wishlist

About Author

प्रियदर्शन

प्रियदर्शन का जन्म 24 जून, 1968 को राँची में हुआ। आपने अॅंग्रेज़ी में राँची विश्वविद्यालय से एम.ए. की पढ़ाई करने के बाद उसी शहर से पत्रकारिता की शुरुआत की।

आपकी प्रकाशित पुस्तकें हैं : ‘ज़िन्दगी लाइव’ (उपन्यास); ‘बारिश, धुआँ और दोस्त’, ‘उसके हिस्से का जादू’ (कहानी-संग्रह); ‘नष्ट कुछ भी नहीं होता’ (कविता-संग्रह) सहित नौ किताबें प्रकाशित। कविता-संग्रह मराठी में और उपन्यास अंग्रेज़ी में अनूदित। सलमान रुश्दी और अरुंधति‍ रॉय की कृतियों सहित सात किताबों का अनुवाद और तीन किताबों का सम्पादन। विविध राजनैतिक-सामाजिक-सांस्कृतिक विषयों पर तीन दशक से नियमित विविधतापूर्ण लेखन और हिन्दी की सभी महत्त्वपूर्ण पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशन।

SKU: duniya-mere-aage-by-priydarshan
Category:
ISBN

9789391277994

Author

Priydarshan

Binding

Hardcover

Pages

152

Publisher

Setu Prakashan Samuh

Imprint

Setu Prakashan

Language

Hindi

Customer Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Duniya Mere Aage By Priydarshan”